रेलवे जॉब : महंगाई और बेरोजगारी को लेकर संसद से सड़क तक चल रहे विपक्षी आंदोलन के बीच केंद्र सरकार ने बताया कि रेलवे ने 2014 से लेकर सन 2022 तक कुल 3.30 लाख लोगों को रोजगार दिया है। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने उच्च सदन में प्रश्नकाल के दौरान यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 10 लाख लोगों को रोजगार देने की जो बात कही थी, उसमें रेलवे की भी अहम भूमिका होगी और वह 1.40 लाख लोगों को नौकरियां देगा। जिसकी प्रक्रिया जारी है।

रेल मंत्री वैष्णव ने यह भी बताया कि रेलवे इस साल 18000 नौकरियों की पेशकश कर चुका है। रेल मंत्री ने पश्चिम बंगाल के संदर्भ में कहा कि वह विगत में कई परियोजनाओं की घोषणा की गई थी, लेकिन रेलवे के तमाम प्रयासों के बावजूद उसे जमीन नहीं मिल सकी है। रेल मंत्री ने विपक्षी दलों पर ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘ कुछ लोग घोषणा करते हैं कुछ लोग काम करते हैं ……..हम बातें नहीं काम करने में विश्वास करते हैं। ‘ वैष्णव ने कहा कि राज्य में जमीन मिलते ही परियोजनाओं पर काम शुरू कर दिया जाएगा।

2.97 लाख से अधिक पद रिक्त

केंद्र सरकार ने शुक्रवार को संसद में बताया कि वर्ष 2021 के अंत तक भारतीय रेल में 2.87 लाख से अधिक पद रिक्त थे, जबकि जून 2022 में यह संख्या बढ़कर 2.97 लाख से अधिक हो गई । सरकार ने यह भी कहा कि पिछले 3 महीनों के दौरान रेलवे में किसी भी पद को समाप्त नहीं किया गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.