रांची। 26 जून को मुख्यमंत्री NMOPS की मंच से बड़ा ऐलान करने वाले हैं। खबर है कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन महासम्मेलन के दौरान कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन बहाली का औपचारिक ऐलान कर देंगे। इस महासम्मेलन को यादगार बनाने के लिए NMOPS ने पूरी ताकत झोंक दी है। NMOPS के इस कार्यक्रम में जयघोष के लिए ज्यादा से ज्यादा कर्मचारियों के जुटने का आह्वान किया जा रहा है।

हालांकि प्रदेश स्तर पर मिले निर्देश के बाद जिलास्तर पर जिस तरह के बैठकों का दौर लगातार चल रहा है, उससे एक बाद तो साफ है कि 26 जून के महासम्मेलन के लिए कर्मचारी वर्ग भी खासा उत्साहित है, लिहाजा OPS के लागू होने के ऐतिहासिक पल का हर कर्मचारी गवाह बनना चाहता है।

सूत्र दावा कर रहे हैं कि 26 जून को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेने पुरानी पेंशन बहाली का औपचारिक ऐलान कर देंगे, ये बात अलग है कि उसकी नियमावली और क्रियान्वयन को लेकर सरकार की तरफ से दिशा निर्देश जारी होगा। राजधानी रांची में आयोजित होने वाले इस पेंशन जयघोष में 30 हजार से ज्यादा कर्मचारियों-अधिकारियों के जुटने का दावा किया जा रहा है।

NMOPS की तरफ से भी उम्मीद इस बात की जतायी जा रही है कि 26 जून को NPS का कलंक मिटेगा और OPS लागू हो जायेगा। NMOPS लगातार प्रदेश के कर्मचारियों से आह्वान कर रहा है कि अपने भविष्य के लिए वो जरूर अपनी जिंदगी का एक दिन का वक्त निकालें और 26 जून को रांची पहुंचे। संगठन की तरफ से कर्मचारियों को उत्साहित करते हुए कहा गया है कि अगर रांची में हमारी हजारों की भीड़ मुख्यमंत्री देखेंगे तो वो जरूर उस भीड़ की मुराद पूरी कर देंगे।

NPS को कर्मचारियों के लिए कलंक बताते हुए संगठन की तरफ से कहा गया है कि अगर OPS लागू हुआ तो ना सिर्फ हमारा भविष्य सुरक्षित होगा, बल्कि हमारे आश्रित भी खुशहाल होंगे। झारखंड NMOPS की तरफ से महिला कर्मचारियों से भी दावा किया गया है कि वो महाअभियान का हिस्सा बने और ज्यादा से ज्यादा संख्या में रांची पहुंचे। महिला कर्मचारियों के लिए जिला संगठनों के निर्देश दिया गया है कि वो उनकी सुरक्षा और सुविधाओं का ख्याल रखते हे घर से रांची और सभास्थल से घर वापस पहुंचायेंगे।

एनएमओपीएस की तरफ से ये भी कहा गया है कि हो सके तो कर्मचारी अपने परिवार के साथ रांची आये और सभास्थल पर पहुंचे। एनएमओपीएस की तरफ ये कहा गया है कि अगर OPS का हक हासिल नहीं किया गया तो आने वाली पीढ़ी कभी माफ नहीं करेगी। सोशल मीडिया से सक्रिय लोगों को भी कार्यक्रम में शामिल होने का अनुरोध NMOPS झारखंड की तरफ से किया गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.