Mathura Mahto Biography In Hindi: झारखंड मुक्ति मोर्चा ने मथुरा महतो को झारखंड की गिरिडीह सीट से लोकसभा प्रत्याशी बनाया है। 57 साल के मथुरा महतो टुंडी से चुनाव जीतते रहे हैं। 10वीं पास मथुरा महतो कुर्मी समुदाय से आते हैं। उन्होंने 2005, 20009 और 2019 में लगातार तीन बार टुंडी से चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की। myneta वेबसाइट के मुताबिक 2009 में जब उन्होंने चुनाव लड़ा तो उनकी कुल संपत्ति सिर्फ 28लाख रुपये थी, लेकिन 2014 में जब उन्होंने नामांकन के वक्त एफिडेफिट दिया, तो उसमें उन्होंने अपनी कुल संपत्ति 1 करोड़ 46 लाख 24 हजार 852 रुपये बतायी।

वहीं 2019 में उन्होंने अपनी संपत्ति की जानकारी 2 करोड़ 10 लाख 84 हजार 445 रुपये बताया। 2009 में उनके नाम पर 3 आपराधिक प्रकरण थे, लेकिन अब एक भी आपराधिक मामला उनके खिलाफ नहीं है। 2019 में उन्होंने खुद को बाघमारा विधानसभा क्षेत्र का मतदाता बताया था। 2009 में विधानसभा चुनाव जीतने के बाद वो कृषि मंत्री भी बने थे।

हालांकि 2014 में उन्हें AJSU प्रत्याशी राज किशोर महतो के हाथों चुनाव हारना पड़ा था। बहुत ही करीबी मुकाबले में राजकिशोर महतो ने ये चुनाव जीता था। राज किशोर महतो को 55466 वोट मिले थे जबकि मथुरा प्रसाद महतो को 54340 वोट मिले थे। 2014 में इस सीट से कुल 6 प्रत्याशी मैदान में थे। हालांकि 2019 में उन्होंने इस हार का बदला लिया और जेएमएम के मथुरा प्रसाद महतो ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा के प्रत्याशी विक्रम पांडेय को 25659 वोटों से हराया।

महतो को 72552 वोट मिले जबकि पांडेय को 46893 वोट मिले। बता दें कि इस सीट पर मुख्य मुकाबला भारतीय जनता पार्टी और झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) के प्रत्याशी के बीच था। चुनाव में भाजपा के मुकाबले झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल ने संयुक्त प्रत्याशी उतारे थे। भाजपा ने इस बार विक्रम पांडे को मैदान में उतारा था जबकि जेएमएम ने मथुरा प्रसाद महतो पर दांव खेला था।

झारखंड में इंडिया गठबंधन के उम्मीदवार कौन कौन?
झारखंड में लोकसभा की 4 सीट में से इंडिया गठबंधन ने 6 सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं। कांग्रेस ने तीन सीटों, झामुमो ने 2 सीटों पर माले ने एक सीट पर प्रत्याशी खड़ा कियाहै। कांग्रेस ने लोहरदगा से सुखदेव भगत को चुनाव मैदान में उतारा है. वहीं खूंटी से कालीचरण मुंडा को टिकट दिया गया है. इसके साथ ही हजारीबाग से कांग्रेस ने जेपी पटेल को अपना प्रत्याशी बनाया है। वहीं, भाकपा माले ने कोडरमा से विनोद कुमार सिंह को चुनावी मैदान में उतारा है। जबकि झामुमो ने गिरिडीह से मथुरा महतो और दुमका से नलिन सोरेन को प्रत्याशी बनाया है।

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति...