गिरिडीह जिले के पुराने पुलिस लाइन में वायरलेस कार्यालय में बतौर ऑपरेटर के पद पर कार्यरत पुलिस जवान अमित सिंह की मौत हो गई। अमित सिंह का शव तड़के सुबह उनके कमरे में पाया गया। मृतक अमित सिंह बिहार के भोजपुर जिले के रहने वाले थे। मृतक जवान के पास से ऐसा कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ जिससे उनके आत्महत्या का मामला सामने आ सके। वायरलेस ऑपरेटर व पुलिस जवान की मौत किस कारण से हुई फिलहाल कारणों का पता नहीं चल पा रहा है। लेकिन आशंका जताई जा रही है की मृतक की मौत का कारण किसी जहरीले जानवर द्वारा काटे जाने से भी हो सकती है। क्योंकि पुराने पुलिस लाइन में जिस तरह वायरलेस ऑफिस का कार्यालय है उनके आसपास काफी झाड़ी है। जवान जिस कमरे में कार्य कर रहा था वो वायरलेस रूम था और वायरलेस का सारा सामान रखा हुआ था।

सदर एसडीपीओ का कार्यालय भी इसी पुराने पुलिस लाइन में कार्यरत है घटना की जानकारी मिलने के बाद डीएसपी संजय राणा, सदर एसडीपीओ अनिल सिंह और मुफस्सिल थाना प्रभारी विनय राम भी घटनास्थल पहुंचकर मामले की जांच कर रहे हैं। जांच के दौरान पुलिस अधिकारियों ने मृतक जवान का शव पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है।

मृतक अमित सिंह का हो चुका था पदोन्नति

जवान अमित सिंह का पदोन्नति सहायक अवर निरीक्षक के पद पर हो चुकी थी। जवान अमित को आज बुधवार को हजारीबाग के पदमा स्थित ट्रेनिंग सेंटर जाना था। मंगलवार को इसका मेडिकल भी हुआ था। आज बस से सुबह जाने का इनका कार्यक्रम तय था और गुरुवार से प्रशिक्षण प्राप्त किया जाना था।

Leave a comment

Your email address will not be published.