देवघर। उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में कोरोना संक्रमण के नए BF.7 वेरिएंट से बचाव व सुरक्षात्मक उपायों को लेकर ऑनलाइन बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान उपायुक्त द्वारा जानकारी दी गई कि वर्तमान में कई देशों में कोरोना संक्रमण का नया वेरियंट BF.7 सामने आया है। वही कोरोना के नए विस्फोट के बीच यह वेरिएंट भारत भी पहुंच चुका है। ऐसे में आवश्यक है इसके प्रभाव को रोकने के उद्देश्य से की जाने वाली तैयारियों के अलावा जिला एवं प्रखंड स्तर पर की गई व्यवस्थाओं को दुरुस्त को दुरुस्त रखने की आवश्यकता हैं।

बैठक के दौरान उपायुक्त ने एसएआरआई(SARI) और आईएलआई(ILI) मरीजों की जांच बढ़ाने का निर्देश स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिया है। आगे उपायुक्त ने देवघर एयरपोर्ट पर आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों का ब्योरा रखने के साथ कोविड टेस्टिंग सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। साथ ही एयरपोर्ट पर कोविड टेस्टिंग की सुविधा शुरू करते हुए अंतरराष्ट्रीय यात्रा से वापस आने वाले यात्रियों के परिजनों की भी टेस्टिंग करते हुए निगरानी की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने कोविड के नए वेरिएंट से सुरक्षा को लेकर बाबा मंदिर, एयरपोर्ट, एम्स जिले के सभी रेलवे स्टेशन (जसीडीह, बैद्यनाथ धाम व देवघर स्टेशन) पर कोविड टेस्टिंग की सुविधा सुनिश्चित करने का निर्देश संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिया। साथ ही संक्रमण के खतरे को देखते हुए जिले के सभी सरकारी कार्यालयों में कोविड नियमों का शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करते हुए संबंधित अधिकारियों को सख्त निर्देशित करते हुए कार्यालय प्रधान होने के नाते अपनी स्वास्थ्य सुरक्षा का ध्यान रखते हुए कार्यालयों में मास्क की अनिवार्यता के अलावा कोविड टिके का दो डोज लगा चुके अधिकारियों व कर्मचारियों को बूस्टर डोज दिलाना सुनिश्चित करें।

उपायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कोविड टीका की गति को एक बार फिर से बढ़ाते हुए जिले में बूस्टर डोज लगाने के प्रतिशत को बढ़ाने की दिशा में कार्य करें। साथ ही बैठक के दौरान उपायुक्त ने जिला स्तर पर संक्रमण के रोकथाम को लेकर किए गए कार्यों व प्रबंधों की जानकारी के साथ किए जाने वाले कार्यों को लेकर संबंधित विभाग के अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा निर्देश दिया।

वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान उपायुक्त मंजूनाथ ने आवश्यक दवाई (कोविड सिमटम) की उपलब्धता, नए, पुराने सदर अस्पताल में आईसीयु, ऑक्सीजन बेड की उपलब्धता, पीडियाट्रिक आइसीयू व पीएसए प्लांट निर्माण कार्यों के अलावा ऑक्सीजन सप्लाई, ऑक्सीजन सिलिंडर, बिजली व्यवस्था और उसकी उपलब्धता को लेकर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा निर्देश दिया। साथ ही सभी तैयारियों का निरीक्षण करते हुए सभी व्यवस्थाओं को दुरुस्त करते हुए उपायुक्त कार्यालय को अवगत कराने का निर्देश दिया। इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त ने सभी सरकारी कार्यालयों के अलावा सभी जिला व प्रखंड स्तर के अस्पताल, थानों में कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर बनाए गए नियमों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करते हुए दूसरों को कोविड नियमो का पालन करने हेतु जागरूक करें, ताकि आने वाले दिनों में कोरोना संक्रमण के नए BF.7 वेरिएंट का प्रसार न हो।

■ कोविड वैक्सीनेशन के साथ कोविड नियमों का अनुपालन अति महत्वपूर्ण:- उपायुक्त….

इसके अलावे वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान उपायुक्त श्री मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि मास्क की आवश्यकता को समझते हुए इसका उपयोग करना सभी सुनिश्चित करें। कोविड के सिमटम दिखने पर कोविड टेस्टिंग अवश्य कराए। साथ ही बैठक के दौरान उपायुक्त ने आने वाले पर्व त्योहार और कोविड खतरे के अलावा इससे जुड़े विभिन्न बिन्दुओं पर विस्तृत समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि कोविड बूस्टर डोज वैक्सीनेशन प्लान को और भी बेहतर करते हुए वैक्सीनेशन के कार्य में तेजी लाए।

समीक्षा बैठक के क्रम में कोविड वैक्सीनशन, टेस्टिंग के अलावा कोविड नियमों के शत प्रतिशत अनुपालन के अलावा लोगों को जागरूक करते हुए अधिक से अधिक लोगों को कोविड टीका देना सुनिश्चित करें, ताकि जल्द से जल्द शत प्रतिशत लोगों को वैक्सीनेशन कोविड का टीका लगाया जा सके। वीडियो कांफ्रेंसिंग के पुलिस अधीक्षक श्री सुभाष चंद्र जाट ने कोविड को लेकर की जाने वाली तैयारियों एवं बचाव को लेकर विभिन्न बिंदुओं पर जानकारी देते हुए कोविड टेस्टिंग और स्वास्थ्य तैयारियों को जल्द से जल्द दुरुस्त करने की बात कही।

उप विकास आयुक्त डॉ ताराचंद ने कोरोना संक्रमण के नए वेरियंट को लेकर की जाने वाली तैयारियों व पूर्व में संक्रमण के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों के साथ कोविड नियमों का शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करने की बात कही। इसके अलावे एम्स निर्देशक डॉ सौरव व सिविल सर्जन डॉ युगल किशोर चौधरी ने कोविड के नए वेरिएंट BF.7 को लेकर बरती जाने वाली सावधानियों एवं की जाने वाली तैयारियों से जुड़ी विभिन्न जानकारियों से सभी अवगत कराते हुए एम्स व सदर अस्पताल की व्यस्थाओं से अवगत कराया।

बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक, उप विकास आयुक्त, नगर आयुक्त, एम्स निर्देशक, अपर समाहर्ता, एयरपोर्ट निर्देशक, निर्देशक डीआरडीए, सिविल सर्जन, अनुमंडल पदाधिकारी देवघर व मधुपुर, जिला परिवहन पदाधिकारी, गोपनीय प्रभारी, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी, जिला भूअर्जन पदाधिकारी, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, जिला कल्याण पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला आपूर्ति पदाधिकारी, जिला खनन पदाधिकारी, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, जिला शिक्षा अधीक्षक, जिला आपदा प्रबंधन पदाधिकारी, डीसी सेल के प्रतिनियुक्त अधिकारी, सभी प्रखंडो के प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, डीपीएम जेएसएलपीएस, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी एवं चिकित्सकों की टीम के साथ-साथ संबंधित विभाग के अधिकारी आदि उपस्थि