पटना। बिहार में एक बार फिर से कोरोना लोगों के लिए काल बनने लगा है। आम और खास इस कोरोना के चंगुल में फंस रहे हैं। बिहार में लगातार कोरोना के केस बढ़ रहे हैं, सबसे ज्यादा चिता प्रवासी मजदूर बढ़ा रहे हैं। बारिश में खेती बारी के लिए दिल्ली-मुंबई से लौट रहे हैं। बिहार में एक मंत्री भी कोरोना की चपेट में आ गयी है। बिहार की खाद्य एवं उपभोक्ता मंत्री लेसी सिंह की रिपोर्ट पॉजेटिव आयी है। उनका एंटीजन और आरटीपीसीआर रिपोर्ट दोनों पॉजेटिव आयी है।

अहम बात ये है बिहार में पिछले तीन दिनों से पॉजेटिवों की संख्या बढ़ रहा है। हर दिन औसतन 25-30 मरीजों की संख्या दिख रही है। स्वास्थ्य विभाग ने सतर्कता बरतने के निर्देश दिये हैं। बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर चेकिंग बढ़ायी गयी है।

हैरानी बात ये है कि जो केस बिहार में में मिल रहे हैं, उनमें ज्यादातर वो मरीज हैं, जो दूसरे राज्यों से लौटे हैं। शनिवार को जारी रिपोर्ट में दो को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दोनों की हालत गंभीर है। पटना जंक्शन पर भी लगातार टेस्टिंग बढ़ायी गयी है। स्वास्थ्य विभाग ने लोगों को सचेत किया है कि वो अपनी जांच जरूर कराये। सर्दी-खांसी बुखार को साधारण मानकर मत छोड़े, अपने को क्वारंटीन करें और सतर्कता जरूर बरतें। आपकौ बता दें कि बिहार से काफी संख्या में दिल्ली, मुंबई और कोलकाता में लोग रहते हैं, जो इस मौसम में वापस लौटते हैं। उन राज्यों में अभी कोरोना की रफ्तार काफी ज्यादा है। लिहाजा वहां से लौटने वाले लोगों को काफी सतर्कता बरतने की जरूरत है।

Leave a comment

Your email address will not be published.