माइग्रेन एक ऐसी बीमारी है जिसमें असहनीय सिर दर्द होता है. आमतौर पर ये दर्द सिर के आधे हिस्से में होता है, लेकिन कभी-कभी ये सिर के पूरे हिस्से में भी फैल जाता है. माइग्रेन का दर्द किसी भी वक्त उठ सकता है जिसे बर्दाश्त कर पाना बड़ा मुश्किल है. आइए आज आपको कुछ ऐसी बातों के बारे में बताते हैं जिनकी मदद से आपको माइग्रेन अटैक से राहत मिल सकती है.

माइग्रेन के प्रमुख कारण

  • जिनके परिवार में माइग्रेन का इतिहास हो, उन्हें इसकी आशंका ज्यादा होती है।
  • हार्मोन में बदलाव माइग्रेन का कारण बन सकता है।
  • मासिक धर्म, रजोनिवृत्ति और गर्भावस्था के चलते महिलाओं में कई तरह के हार्मोनल बदलाव देखे जाते हैं। कई बार इस बदलाव की वजह से माइग्रेन का दर्द शुरू हो सकता है।
  • हार्मोनल बदलाव के कारण ही पुरुषों की तुलना में महिलाएं इस रोग से ज्यादा पीड़ित होती हैं।
  • मौसमी बदलाव दर्द का कारण बन सकता है। ज्यादा शोर, बार-बार बढ़ने-घटने वाली तेज रोशनी व धूप में आंखें चुंधियाना, बहुत तेज गंध वगैरह से संवेदनात्मक उत्तेजना बढ़ सकती है और माइग्रेन का दर्द शुरू हो सकता है।
  • ज्यादा मसालेदार भोजन, शराब का ज्यादा सेवन, धूम्रपान, चॉकलेट जैसे कुछ मीठे पदार्थ, पनीर आदि माइग्रेन के दौरे का कारण बन सकते हैं
  • एलोपैथी की कुछ दवाओं की वजह से दर्द शुरू हो सकता है।
  • महिलाओं में बर्थ कंट्रोल पिल्स माइग्रेन पैदा कर सकते हैं।
  • सोने-जागने की लगातार अनियमितता दर्द का कारण बन सकती है।
  • बहुत ज्यादा शारीरिक श्रम और थकान से माइग्रेन शुरू हो सकता है
  • एक अध्ययन के मुताबिक, बहुत ज्यादा कैफीन का सेवन करने वाले यदि अचानक इसका सेवन बंद कर दें, तो माइग्रेन की चपेट में आ सकते हैं।
  • तनाव और बेचैनी के माहौल में ज्यादा समय तक रहना पड़े, तो माइग्रेन की शुरुआत हो सकती है।
  • सही समय पर भोजन न करने पर यह शुरू हो सकता है।
  • पानी कम पीना दर्द का कारण हो सकता है।
  • विटामिन की कमी माइग्रेन का कारण बन सकती है।

माइग्रेन को कैसे रोकें ?

जीवन शैली के कुछ पहलुओं को बदलने से माइग्रेन को कम करने में मदद मिल सकती है।

  • कम से कम 7 घंटे नींद लें
  • किसी के जीवन में भावनात्मक और शारीरिक तनाव कम करें
  • रोजाना कम से कम 8 गिलास पानी पी लें
  • नियमित रूप से व्यायाम करें

माइग्रेन के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Migraine

  • जब भी माइग्रेन का दर्द उठे, बर्फ के चार क्यूब्स को रूमाल में लपेटकर इसे सिर पर रखें. करीब 15 मिनट तक ऐसा करें. इससे आपको सिरदर्द में काफी आराम महसूस होगा।
  • रोज सुबह खाली पेट छोटा सा गुड़ का टुकड़ा मुंह में रखें और ठंडे दूध के साथ इसे पी जाएंं. रोज सुबह इसके सेवन से माइग्रेन के दर्द में काफी आराम मिलता है.
  • दालचीनी को पीसकर इसका पेस्ट बना लें और इस पेस्ट को माथे पर करीब आधे घंटे तक लगाकर रखें. दर्द से राहत मिलेगी
  • अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा दांतों के बीच दबा लें और उसे चूसते रहें. माइग्रेन के दर्द को कम करने में मदद करेगा.
  • सेब का सिरका माइग्रेन से राहत दिलाने में फायदेमंद
  • धनिये के बीजों से तैयार चाय माइग्रेन में काफी लाभकारी होती है।
  • गर्म पानी में लैवेंडर तेल की कुछ बूंद डालकर सूंघने से बेहद आराम मिलता है।

नोट: लेख में दी गयी बीमारी और घरेलू नुस्खों से जुड़ी सभी जानकारियां सूचनात्मक उद्देश्य से लिखी गयी है। किसी भी नुस्खे को आज़माने या किसी स्वास्थ्य समस्या के इलाज से जुड़े किसी भी निष्कर्ष तक पहुंचने के लिए कृपया किसी विशेषज्ञ का परामर्श ज़रूर लें।

Leave a comment

Your email address will not be published.