नई दिल्ली । भारत निर्वाचन आयोग(ECI) डिस्टेंस वोटिंग किए जाने को लेकर तैयारी शुरू कर दी है। इससे देश में कहीं से भी वोटिंग की जा सकेगी। प्रवासी मतदाताओं की सुविधा को देखते हुए चुनाव आयोग ने रिमोट वोटिंग पर काम करना शुरू कर दिया है। इससे मतदाता को काफी सुविधा मिल सकती है। क्योंकि वोटिंग के समय अन्य जगहों पर काम करने वाले मतदाता को चुनाव के वक्त अपने घर आना पड़ता था। नई सुविधा के साथ जहां वह रह रहें हैं वहीं से वोटिंग कर पाएंगे। भारत निर्वाचन आयोग नई दिल्ली द्वारा 16 जनवरी 2023 को 11:00 सुबह से बैठक आयोजित की गई है।जिसमें राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के लिए बहू निर्वाचन क्षेत्र प्रोटोटाइप रिमोट इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की कार्यप्रणाली का प्रदर्शन किया जाएगा। इस अवसर पर तकनीकी विशेषज्ञ समिति के सदस्य भी उपस्थित रहेंगे।

रिमोट वोटिंग पर हो रहा है काम

भारत निर्वाचन आयोग ने रोजगार, शिक्षा या अन्य कारणों से गृह नगर से देश में दूसरी जगह पर रह रहे नागरिकों को रिमोट वोटिंग की सुविधा देने पर काम शुरू कर रही हैं। इससे देश में कहीं भी अपने घर या मूल निर्वाचन क्षेत्र के लिए मतदान करना संभव हो जाएगा। प्रवासी मतदाता को मतदान के लिए वापस अपने गृह राज्य या अपने वोटिंग क्षेत्र जाने से मुक्ति मिल जाएगी।

क्या है तैयारी

ECI द्वारा तकनीक के रिमोट पोलिंग बूथ से 72 निर्वाचन क्षेत्रों का मतदान किया जा सकेगा। चुनाव आयोग ने प्रोटोटाइप रिमोट इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (आरवीएम) विकसित की है। एक रिमोट पोलिंग बूथ से ही 72 निर्वाचन क्षेत्रों तक का मतदान संभव हो पाएगा। भारत निर्वाचन आयोग ने उनके प्रदर्शन के लिए राजनीतिक दलों को आमंत्रित किया है। जिससे उनकी कानूनी प्रक्रिया प्रशासनिक और राजनीतिक दलों को विश्वास में लिया जाएगा।