गोड्डा । पुरानी पेंशन बहाली को लेकर 26 जून को रांची की महारैली को यादगार बनाने की तैयारी तेज हो गयी है। NMOPS के बैनर तले आयोजित होने वाली इस महारैली में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी शिरकत करेंगे, लिहाजा प्रदेश भर से कर्मचारियों की जुटान रांची में 26 जून को होगी।महारैली की तैयारी को लेकर राज्य स्तरीय बैठक के बाद अब जिला स्तर पर भी बैठकों का दौर जारी है। आज गोड्डा जिले के NMOPS पदाधिकारियों ने बैठक कर ज्यादा से ज्यादा की संख्या में महारैली में शिरकत करने की कार्ययोजना बनायी गयी।


बैठक में इस बात का निर्णय लिया गया कि गोड्डा जिले से महारैली में 1500 से ज्यादा NPS कर्मचारी रांची जायेंगे और पुरानी पेंशन की मांग को लेकर आवाज बुलंद करेंगे। महारैली की तैयारी को लेकर +2 उच्च विद्यालय गोड्डा के सभागार कक्ष में जिला कार्यकारिणी की बैठक हुई। जिसमें कर्मचारी हित के मुद्दे पर चर्चा के अलावे महारैली की तैयारी की समीक्षा की गयी। फैसला लिया गया कि ज्यादा से ज्यादा की संख्या में जिले से एनपीएस कर्मी रांची पहुंचेंगे और मुख्यमंत्री की मौजूदगी में अपनी आवाज बुलंद करेंगे।


ये लिया गया है बैठक में फैसला –


(1) रैली में भागीदारी को लेकर सभी प्रखंडों के DDO के साथ शीघ्र ही एक बैठक की जायेगी।
(2) संबंधित प्रखंड के DDO को इस रैली के लिए समन्वयक (Co-ordinater) बनाया जायेगा।
(2) जिले के सभी संगठनों के पदाधिकारियों के साथ शीघ्राशीघ्र बैठक का आयोजित की जायेगी।
(3) संघीय पदाधिकारी को भी जवाबदेही दी जाए कि अधिकतम लोगों को उनके द्वारा रांची भेजा जाए।
(4) इन पुरानी पेंशन धारकों को भी रांची जाने के लिए आग्रह प्रेषित किया जायेगा। ।

इन चर्चाओं के अलावे सदस्यता अभियान चलाने के साथ-साथ आय व्यय का ब्योरा प्रस्तुत करने, कमजोर प्रखंडों में संगठन के पुनर्गठन को लेकर भी चर्चा की गयी। आपको बता दें कि झारखंड में पुरानी पेंशन बहाली को लेकर कवायद तेज है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेने ने इस संदर्भ में पहले ही ऐलान कर दिया है कि प्रदेश के कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन बहाल किया जायेगा। मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद वित्त विभाग ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है। विभागवार आंकड़े जुटाने के साथ-साथ नियमावली तैयार करने की बात की जा रही है।


इन सबके बीच एनएमओपीएस ने 26 जून को महारैली आयोजित की है, जिसमें ना सिर्फ बड़ी संख्या में प्रदेश भर से कर्मचारी शिरकत करेंगे, बल्कि OPS को लेकर अपनी आवाज भी बुलंद करेंगे। खास बात ये है कि इस मौके पर खुद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेने भी मौजूद रहेंगे। लिहाजा NMOPS संगठन की ये कोशिश है कि मुख्यमंत्री की मौजूदगी में एक बड़ा शक्ति प्रदर्शन किया जाये।

Leave a comment

Your email address will not be published.