रांची रिनपास की प्रभारी निदेशक डॉ जयती सिमलई के खिलाफ रविवार को कांके थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई। महिला मरीज की मौत डॉक्टर जयती सिमलई की कार की चपेट में आने से हुई थी। भर्ती विक्षिप्त महिला मरीज तैरु निशा की मौत मामले में रिनपास की प्रभारी निदेशक पर यह कार्रवाई हुई है। कांके थाना में प्रभारी निदेशक के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 279, 304 (ए) के तहत मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में सिविल कोर्ट में पतराटोली निवासी सोनू मुंडा ने शिकायत दर्ज कराया था। केस की सुनवाई करते हुए चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट मिथिलेश कुमार सिंह ने कहा कि थाना को एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया था।

अदालत के आदेश के बाद प्राथमिकी दर्ज

अदालत के आदेश के बाद कांके थाना ने डॉक्टर जयती सिमलाई के खिलाफ मामला दर्ज किया है। बहस के दौरान सोनू मुंडा के अधिवक्ता इशान तिवारी ने अदालत से आग्रह किया है कि प्रभारी निदेशक डॉ जयती सिमलई को निदेशक के पद से हटाकर कहीं और भेजा जाए। वे जांच को पद का दुरुपयोग कर प्रभावित कर सकती हैं।शिकायतकर्ता की बहस के बाद अदालत ने कांके थाना प्रभारी को धारा 156 (3) के तहत प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया।

क्या है पूरा मामला

डॉ जयती सिमलई (तब प्रोफेसर एंड h.o.d. साइकेट्रिक विभाग) 2 मार्च 2022 को महिला वार्ड में महिला रोगी को देखने अपनी कार जेएच 01सीसी 9687 से जा रही थी। तभी 73 वर्षीय तैरू निशा कार की चपेट में आने से घायल हो गई थी। दुर्घटना में महिला रोगी बुरी तरह जख्मी हो गई। बेहतर इलाज के लिए महिला रोगी को रिम्स में भर्ती कराया गया था, जहां उसकी मौत 14 अप्रैल 2022 को हो गई थी। महिला रोगी को वर्ष 1994 में पटना सेंट्रल जेल से इलाज के लिए रिनपास भर्ती कराया गया था।

डॉ जयती से पूछा गया था स्पष्टीकरण

महिला विभाग के कैंपस में चार पहिया वाहन पूरी तरह से वर्जित है। तब तत्कालीन प्रभारी निदेशक डॉ सुभाष सोरेन ने डॉक्टर जयती सिमलई को शो कॉज किया था तब जयती सिमलई ने निदेशक को भेजे जवाब में कहा था कि 2 मार्च 2022 को उनकी तबीयत खराब थी, उस दिन वह अपनी कार से वार्ड के भीतर रोगी को देखने जा रही थी। तभी महिला रोगी तैरू निशा वार्ड के भीतर एक मोड़ पर अचानक उनकी कार की चपेट में आ गई। जिससे वह घायल हो गई तब इलाज के लिए महिला रोगी को भेजा गया था। घायल रोगी के साथ गई रिनपास की सिस्टर मुनरेन बारला ने बरियातू पुलिस को बताया था कि तैरू निशा वार्ड के अंदर करंज का पेड़ गिरने से घायल हुई थी।

Donate to HBPL