नयी दिल्ली । महंगाई के बीच एक सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। केंद्र सरकार ने 2 साल के लिए खाने के तेल पर कस्टम ड्यूटी खत्म कर दी है। सोयाबीन और सूरजमुखी तेज के आयात पर कस्टम ड्यूटी खत्म की गयी है। वहीं कृषि और बुनियादी शुल्क पर भी विकास सेस को खत्म किया गया है। सरकार के इस कदम के बाद खाले का तेल सस्ता हो सकता है।

सरकार की ओर से बताया गया क्रूड सोयाबीन आयल और क्रूड सूरजमुखी आयल के दो वित्तीय वर्ष के लिए प्रति साल 20 लाख मीट्रिक टन का आयात ड्यूटी फ्री किया गया है। सरकार ने कहा है कि सीमा शुल्क और कृषि बुनियादी शुल्क और डेवलपमेंट सेस को खत्म किया गया है। इन टैक्स की अदायगी के बिना खाने के तेल को आयात करने की अनुमति रहेगी। माना जा रहा है कि इससे उपभोक्ता को काफी राहत मिलेगी।

इससे पहले सरकार की तरफ से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में भी राहत दी गयी थी। पेट्रोल में 8 रूपये और डीजल पर 6 रूपये की एक्साइज ड्यूटी कम की गयी थी, जिसके बाद पेट्रोल 9.50 रूपये और डीजल 7 रूपये सस्ता हो गया था। सरकार ने एलपीजी सिलेंडर पर 200 रूपये प्रति सिलेंडर सब्सीडी की घोषणा की थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.