लातेहार राज्यभर में कोरोना पैर पसारता दिख रहा है। लातेहार जिले से चंदवा प्रखंड में एक बुरी खबर सामने आई है। चंदवा प्रखंड स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में पढ़ने वाले 9 छात्राएं कोरोना संक्रमित पाई गई। जबकि एक छात्रा की मौत तेज बुखार के कारण हो गई । अनुमान लगाया जा रहा है कि उसकी भी मौत कोरोनावायरस के कारण हुई है। मामला प्रकाश में आते ही आनन फानन में सभी छात्राओं की जांच कराई गई जिसमें 9 से अधिक छात्राएं पॉजिटिव पाई गई।

क्या है मामला

चंदवा प्रखंड में स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में पढ़ने वाली नौवीं कक्षा की छात्रा शुक्रवार की रात अचानक गंभीर रूप से बीमार हो गई। उसे तेज बुखार था, छात्रा को सांस लेने में भी तकलीफ हो रही थी, ऐसे में आनन-फानन में छात्रा को लातेहार सदर अस्पताल इलाज के लिए भेजा गया। लेकिन उसकी स्थिति की गंभीरता को देखते हुए उसे रिम्स रेफर कर दिया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृत हुई छात्रा में कोरोनावायरस से पीड़ित थी। ऐसे में अनुमान लगाया जा रहा है कि छात्रा की मौत के कारण कोरोना वायरस है हालांकि इसकी पुष्टि अभी तक नहीं हो पाई है।

शिक्षा विभाग और स्वास्थ्य विभाग हुआ सक्रिय

कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में पढ़ने वाली छात्रा की मौत होने के बाद शिक्षा विभाग और स्वास्थ्य विभाग एक्टिव हो गया। रविवार को विद्यालय परिसर में जांच शिविर का आयोजन किया गया। जहां जांच के दौरान 9 छात्राएं कोरोना संक्रमित पाई गई। इसके बाद विद्यालय प्रबंधन समिति ने निर्णय लिया है कि जिन स्कूल की छात्राओं की जांच के बाद रिपोर्ट नेगेटिव आई है उन छात्राओं को भी वर्तमान समय में उनके घर भेज दिया जाए।

सभी आवासीय विद्यालय को किया गया हाई अलर्ट

मामले की जानकारी देते हुए लातेहार जिला शिक्षा पदाधिकारी निर्मल बरेलिया ने बताया कस्तूरबा गांधी विद्यालय में कोरोना से संक्रमित छात्राओं के पाए जाने के बाद सभी आवासीय विद्यालय के प्राचार्य को हाई अलर्ट कर दिया गया है। उन्होंने कहा सभी प्रभारियों को निर्देश दिया गया है कि विद्यालय में विशेष रुप से समय अंतराल पर कोरोना जांच शिविर लगाकर बच्चों की जांच कराएं। अगर कोई भी बच्चा कोरोनावायरस से संक्रमित पाया जाता है तो उसे आइसोलेट करते हुए अन्य बच्चों से अलग रखें और घर भेज दें।

निर्मला बरेलिया ने बताया कि विद्यालयों को पूरी तरह से सेनिटाएज करें। जिला शिक्षा पदाधिकारी ने जिले के अन्य सभी विद्यालयों के प्रधानाध्यापक को भी निर्देश दिया है कि विद्यालय में कोरोना शिविर लगाकर बच्चों की जांच कराएं। लातेहार के कस्तूरबा गांधी विद्यालयों में छात्राओं के कोरोना वायरस संक्रमित होने के बाद एक बार पूरे जिले में स्कूलों पर ग्रहण लगने की आशंका है।

Leave a comment

Your email address will not be published.