एक्ट्रेस के खिलाफ मामला दर्ज, पब्लिसिटी के लिए बनवायी थी गिरफ्तारी की झूठी वीडियो, अब असल में गिरफ्तारी का खतरा, पढ़ें पूरा मामला

मुंबई। एक्ट्रेस उर्फी जावेद की मुश्किलें बढ़ गयी है। खुद की गिरफ्तारी का झूठा VIDEO बनाने वाली उर्फी पर अब असल में गिरफ्तारी का खतरा मंडरा रहा है। मुंबई पुलिस ने उर्फी के खिलाफ एफआईआर (FIR) रजिस्टर की है, जिसमें उनपर 4 IPC की धाराएं लगाई हैं। पुलिस का कहना है कि पब्लिक सर्वेंट ने उनकी इज्जत मिट्टी में मिलाने की कोशिश की है. ऐसे में उर्फी पर 171, 149 (चीटिंग), 500 (डिफेमेशन) और 34 (कॉमन इंटेनशन) का केस दर्ज किया है।

सिर्फ उर्फी ही नहीं, 4 और लोगों पर यह केस दर्ज हुआ है. पुलिस डिपार्टमेंट को बदनाम करने की कोशिश में उर्फी लंबी फंस सकती हैं. ओशिवारा पुलिस स्टेशन का कहना है कि उन्होंने चार सेक्शन के अंडर में उर्फी और उनके साथियों के खिलाफ केस दर्ज किया है. 3 नवंबर की सुबह में जो उर्फी ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाला था, उसमें फेक पुलिस थी जो एक्ट्रेस को गिरफ्तार कर रही थी. यह गलत तरीका है. ये करके उर्फी ने पुलिक को बदनाम करने की कोशिश की है।

दरअसल शुक्रवार को उनका एक वीडियो तेजी वायरल हुआ, जिसमें उन्हें दो महिला पुलिस कर्मचारी पकड़कर जीप में ले जाती नजर आईं। इस वीडियो के वायरल होने के बाद कहा गया कि उर्फी को अश्लीलता फैलाने की वजह से मुंबई पुलिस की ओर से गिरफ्तार किया गया है। हालांकि उनका ये वीडियो फेक निकला। खुद मुंबई पुलिस ने इस मामले में संज्ञान लेकर इसकी पुष्टि की है।

दरअसल, उन्होंने ये वीडियो लोकप्रियता हासिल करने के लिए बनाया था। अब उनके इसी फेक वीडियो पर एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस ने जिन धाराओं में मामला दर्ज किया है। उसमें धारा 171 (लोकसेवक की पोशाक पहनना), धारा 419 छल, धारा 500 आपराधिक मानहानि और धारा 34 कई लोगों के समान इरादे से आपराधिक कृत्य से संबंधित है। उर्फी जावेद इस केस में बुरी फंस सकती हैं।

HPBL Desk
HPBL Desk  

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति की हो, खेलकूद की हो, अपराध की हो, मनोरंजन की या फिर रोजगार की, उसे LIVE खबर की तर्ज पर हम आप तक पहुंचाते हैं।

Related Articles

Next Story