हजारीबाग भीषण सड़क दुर्घटना की गूंज मुख्यमंत्री से लेकर प्रधानमंत्री तक पहुंच गई है।ट्वीट जरिए शोक संदेश जारी कर कहा गया है इस दुख की घड़ी में उनकी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारजनों के साथ है,और घायल जल्द स्वस्थ हो जाए। घायलजनों ने बातचीत में बताया की बहुत सारे लोग बाहर से भी आए थे और बस से रांची धार्मिक प्रयोजन में जा रहे थे।

देवदूत बनकर घायलों की मदद की 108 एंबुलेंस

टाटीझरिया में हुए बस एक्सीडेंट में 108 एंबुलेंस की भूमिका अहम रही। हज़ारीबाग़ जिले के छः 108 एंबुलेंस सेवा इसमें लगातार लगी रही। 108 एंबुलेंस टाटीझरिया से मेडिकल कॉलेज हजारीबाग, आरोग्यं, क्षितिज, हॉस्पिटल में घायलों को पहुंचाया। गंभीर मरीजों को हजारीबाग से रांची रिम्स तक भी 108 एंबुलेंस की मदद से पहुंचाया गया। 108 एंबुलेंस के टीम की सभी ने सराहना की।

बस दुर्घटना कैसे हुई

गिरिडीह से रांची जा रही शिवा बस हजारीबाग में नदी में गिर गई। हजारीबाग – बगोदर NH 100 पर दारू के बीच शिवानी नदी में बस पलट गई। इसमें 7 लोगों की मौत हो गई है। इनमें हजारीबाग गुरुद्वारा कमेटी के राजू सिंह भी शामिल हैं। हादसे में 45 लोग घायल हो गए हैं। इन्हें शेख भिखारी मेडिकल कॉलेज हजारीबाग में भर्ती कराया गया है। सूचना मिलते ही स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे और मदद में जुट गए। खबर मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और घायलों को कड़ी मशक्कत से बाहर निकाल कर अस्पताल भेजा गया।

नदी में पलटी बस

जानकारी के अनुसार सभी लोग रांची धार्मिक कार्यक्रम कीर्तन में शामिल होने जा रहे थे। इसी बीच दुर्घटना घटी। घटना के संबंध में बताया जा रहा है शिवा नाम की बस गिरिडीह से रांची जा रही थी इसी दौरान हजारीबाग – बगोदर एनएच 100 पर दारू के बीच शिवानी नदी में बस पलट गई। अब तक की जानकारी के मुताबिक बस की पत्ती टूटने के बाद बस अनियंत्रित हो गई और नदी में पलट गई। इस बस में 52 दर्शनार्थी सवार थे।

नदी में गिरी बस

उपायुक्त नैंसी सहाय पहुंची घटनास्थल

घटना कि जनकारी मिलते ही जिले और आसपास के सभी वरीय पदाधिकारी घटनास्थल्वकी और पहुंचे। हादसे के बाद उपायुक्त नैंसी सहाय के निर्देश पर राहत कार्य शुरू किया गया। बस में फंसे घायलों को गैस कटर से निकालने का प्रयास किया गया। कई लोग वाहन में फंसे हुए थे। इन्हें कड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकालकर एंबुलेंस से शेख भिखारी मेडिकल कॉलेज हजारीबाग में भर्ती कराया गया। स्वास्थ्य मंत्री ने भी जिले के सिविल सर्जन को आवश्यक निर्देश जारी किया। इस हादसे की खबर मिलते ही सिख समाज के काफी संख्या में लोग अस्पताल पहुंचे। बताया जा रहा है कि सभी लोग रांची धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे, इसी बीच दुर्घटना घटी।

Leave a comment

Your email address will not be published.