लखनऊ। यूपी वाकई में गजब है!  अब तक तो इंसानों के ही DNA टेस्ट की बात सामने आती थी, लेकिन अब भैस का भी DNA टेस्ट होगा। भैस का असली मालिक कौन ? ये जानने के लिए भैस के DNA टेस्ट कराने का आदेश दिया गया है। एक ही भैस पर दो मालिकों की दावेदारी के बाद पुलिस ये तय नहीं कर पा रही है, कि आखिर इसका असली मालिक कौन है। लिहाज, अब भैस के मालिक की पहचान DNA टेस्ट के जरिये होगी। यूपी के शामली में भैस के DNA टेस्ट का आदेश एसपी सुकीर्ति माधव ने दिया है।

शामली में दो साल पहले एक भैस चोरी हुई है। चोरी के बाद दो-दो मालिक उस भैस पर दावेदारी कर रहे हैं, लिहाजा पुलिस ने भैस और उसे जन्म देने वाली भैस का सैंपल लिया है। अब उस सैंपल को राज्य के बाहर भेजा जायेगा।

झिंझाना थाना क्षेत्र के अहमदगढ़ गांव में रहने वाले चंद्रपाल कश्यप के घर से 25 अगस्त 2020 को एक भैस की चोरी हो गयी। चंद्रपाल ने खोजबीन की तो नवंबर 2020 में ये भैस सतबीर सिंह के घर में पाया गया था। सतबीर ने भैस को अपना बताते हुए चोरी से इंकार कर दिया। इस दौरान कोरोना आ गया, तो कानूनी प्रक्रिया आगे नहीं बढ सकी। अब शिकायतकर्ता के फिर से शिकायत के बाद जांच की जा रही है।