रांची। चुनाव आयोग से मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को बड़ी राहत मिली है। आयोग ने पत्थर खनन लीज मामले में पेशी के लिए और मोहलत दे दी है। इससे पहले आज मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को चुनाव आयोग के सामने पेश होना था। इस मामले में चुनाव आयोग ने आखिरी मौका देते हुए 28 जून की तारीख तय की है।

इससे पहले चुनाव आयोग ने 80 डिसमिल पत्थर खनन लीज से जुड़े मामले में हेमंत सोरेने से जवाब मांगा था। मुख्यमंत्री ने इस मामले में जवाब पहले ही दे दिया था। आज मुख्यमंत्री को आयोग के सामने पेश होना था, लेकिन सीएम ने निर्वाचन आयोग से और समय की मांग की। मुख्यमंत्री की तरफ से बताया गया कि उनके वकील अभी कोरोना संक्रमित हैं, इकी वजह से उन्हें वक्त दिया जाना चाहिये। जिसके बाद आयोग ने उन्हें ये कहते हुए 28 जून की आखिरी तारीख दे दी, कि यह व्यक्तिगत सुनवाई का आखिरी मौका होगा, अगर उसमें वो विफल रहे तो सुनवाई से पहले उनके लिखित जवाब के अनुरूप कार्रवाई आगे बढ़ेगी।

https://twitter.com/ANI/status/1536638749521588224?cxt=HHwWgMCt1aOzntMqAAAA

आपको बता दें कि 80 डिसमिल पत्थर खनन पट्टा मामले में चुनाव आयोग ने हेमंत सोरेन को नोटिस दिया था। जिसमें ये कहा गया था कि उन्होंने एक माइंस लीज पर ले रखी है। यह जनप्रतिनिधित्व अधिनियम की धारा 9 ए के तहत उन्हें अयोग्य ठहरा सकता है। हालांकि इस मामले में पक्ष रखने केलिए मुख्यमंत्री ने करीब डेढ महीने का वक्त लिया है। आयोग ने उन्हें 14 जून को चुनाव आयोग में उपस्थित होकर अपना पक्ष रखने को कहा था। आयोग ने इस मामले में प्रतिवादी के दौरा पर भाजाप को भी उसी दिन पक्ष रखने के लिए बुलाया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.