हैवानियत : 20 महिलाओं से Video बनाकर किया दुष्कर्म, आयुक्त और सभापति ने दोस्तों संग मिलकर नौकरी के नाम पर किया Rape

क्राइम न्यूज : राजस्थान के सिरोही जिले में करीब 15 से 20 महिलाओं के साथ गैंगरेप की वारदात सामने आई है। पुलिस ने अब तक आठ एफआईआर दर्ज की हैं। जांच शुरू कर दी गई है। पीड़िताओं का आरोप है कि सिरोही नगर परिषद के सभापति और आयुक्त ने आठ-दस से अधिक लोगों के साथ मिलकर उनके साथ दुष्कर्म किया और उनके अश्लील वीडियो भी बना लिए। पुलिस को दी शिकायत में पीड़ितों ने आरोप लगाया कि आंगनवाड़ी केंद्रों में नौकरी दिलाने की आड़ में सभी को सिरोही बुलाया गया था।

धोखे से बुलाया

आरोप है कि महिलाओं ने सिर दर्द के बारे में महेंद्र मेवाड़ा और महेंद्र चौधरी से पूछा। इसके बाद उन दोनों ने पूरे षड्यंत्र के बारे में बताया। उन्होंने कहा- तुम सभी (महिलाओं) से हमने (महेंद्र मेवाड़ा और महेंद्र चौधरी) खूब मजे लिए। हमने इसके लिए तुम लोगों को धोखे से बुलाया था। साथ में, इनके 10-15 दोस्त भी थे। इनकी बातें सुनकर उनके दोस्त जोर-जोर से हंस रहे थे। सभी शराब के नशे में थे। सामने शराब की बोतलें रखी हुई थीं।

ब्लैकमेल कर मांगे 5 लाख

महिला ने आरोप लगाया है कि महेंद्र मेवाड़ा और महेंद्र चौधरी ने अपने 10-15 दोस्तों के साथ मिलकर सभी महिलाओं को नौकरी का झूठा झांसा देकर रेप किया है। उनकी आपत्तिजनक वीडियो बनाए हैं। अब उसी वीडियो को देखाकर ब्लैकमेल कर रहे हैं। 5 लाख रुपए की डिमांड भी की है। फिर से रेप करने के लिए दबाव बना रहे हैं।

रिपोर्ट में बताया गया है कि महेंद्र मेवाड़ा ने नौकरी का झांसा देकर महिलाओं से खाली कागजों और स्टैंप पेपर पर साइन कराए हैं। उन कागजातों पर अंगूठे के निशान भी लगवाए हैं। ये दस्तावेज महिलाओं के पास नहीं हैं।

एक ओर चेयरपर्सन और कमिश्नर ने आरोपों से इनकार किया है। वहीं दूसरी ओर सिरोही पुलिस अधीक्षक ज्येष्ठा मैत्रेयी ने कई बार कोशिश करने पर भी फोन रिसीव नहीं किया। हालांकि एक पुलिस अधिकारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि कोतवाली थाने में इसे लेकर आठ एफआईआर दर्ज की गई हैं। आईपीसी की धारा 376 डी, 417 और 384 के तहत मामला दर्ज किया गया है। नगर परिषद सिरोही सभापति महेंद्र मेवाड़ा, पूर्व आयुक्त महेंद्र चौधरी और उनके साथियों पर आरोप लगाए गए हैं।

HPBL Desk
HPBL Desk  

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति की हो, खेलकूद की हो, अपराध की हो, मनोरंजन की या फिर रोजगार की, उसे LIVE खबर की तर्ज पर हम आप तक पहुंचाते हैं।

Related Articles

Next Story