वैशाली। सोनू सूद से मदद मांगना एक शिक्षक को महंगा पड़ गया। शुभम कुमार ने ट्वीट कर सोनू सूद से मदद मांगी थी, लेकिन मिली नहीं, उलटे ठगों ने एकाउंट से पैसे उड़ा दिये। दरअल शिक्षक शुभम कुमार कोरोना के बाद जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं। उनका फेफड़ा पूरी तरह से संक्रमित हो गया है। फेफड़े के इलाज के उन्हें चेन्नई जाना है, जहां 45 लाख रूपये का खर्च आयेगा। जिंदगी मे लड़ रहे शिक्षक को भी साइबर ठग बख्श नहीं रहे।

मामला नालंदा के नगर द्वारिका नगर मोहल्ले का है। दरअसल हुआ ये कि अपने इलाज के लिए शुभम कुमार ने राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री से मदद की गुहार लगायी थी, लेकिन उनकी मदद किसी ने नहीं की। शुभम कुमार को किसी ने बताया कि बालीवुड एक्टर शुभम कुमार सभी की मदद करते हैं। मदद के लिए शिक्षक ने सोनू सूद को ट्वीट किया। तभी से वो साइबर ठग के निशाने पर आ गये।

एक दिन उनके दिये मोबाइल नंबर पर सोनू सूद का मैनेजर बनकर किसी ने फोन किया। उस शख्स ने एक लिंक भी दिया और कहां इसे डाउनलोड करो। डाउनलोड करते ही खाते का पैसा गायब हो गया। ठग की इस करतूत से शिक्षक का पूरा परिवार मर्माहत है। एक तो शिक्षक को मदद नहीं मिल रहा, उस पर ठग ने एकाउंट खाली कर दिये।

Leave a comment

Your email address will not be published.