पटन। IPS लिपि सिंह से PHQ ने जवाब तलब किया है। पूर्व सांसद और बाहुबली आनंद मोहन की पेशी के दौरान पटना से जेल लौटने के बजाय निजी आवास में परिवार और समर्थकों के साथ बैठक करने के मामले में पुलिस मुख्यालय ने IPS लिपि सिंह से रिपोर्ट तलब की है। लिपि सिंह से पुलिस मुख्यालय ने रिपोर्ट तलब की है। एडीजी जीएस गंगवार ने इस मामले में एसपी लिपि सिंह से जवाब रिपोर्ट मांगी है। इधर इस मामले में लिपि सिंह ने छह पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। साथ ही पूरे मामले की जांच के आदेश भी दे दिए हैं।

आरोप है कि गोपालगंज के तत्कालीन जिलाधिकारी जी कृष्णैय्या की हत्या मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे पूर्व सांसद आनंद मोहन पेशी के लिए पटना आए थे। पटना से उन्हें फिर वापस जेल ले जाया जाना था, लेकिन वो जेल जाने के बजाय पाटलिपुत्र स्थित निजी आवास पहुंच गए। यहां उन्होंने अपने समर्थकों के साथ मुलाकात की।

यही नहीं आनंद मोहन अपने लाव लश्कर के साथ दरोगा राय पथ स्थित विधायक कॉलोनी भी गए, वहां विधायकों के साथ मिलने के बाद वो कौटिल्य नगर चले गए। जानकारी के मुताबिक पेशी के लिए आनंद मोहन को सहरसा से पटना लाया गया था। आनंद मोहन की निजी आवास पर बैठक और पटना में घूमने का वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो गया।

मीडिया में खबरें आने के बाद पुलिस मुख्यालय ने एडीजी ने जांच के आदेश दिए हैं। सहरसा की रिपोर्ट तलब किया गया है संतोष गंगवार का कहना है कि इस मामले में जो भी दोषी होगा, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Donate to HBPL